देखिए वीडियो: सुनिए बिलासपुर कलेक्टर साहब… गनियारी सरपंच अपने लठैतों के दम पर गौबंद के तालाब से निकलवा रहे हैं मछलियां… विरोध करने पर ग्रामीणों को गुंडों से पिटवाते हैं…

बिलासपुर। ग्राम पंचायत गौबंद स्थित तालाब से बलपूर्वक मछली निकलवाने का मामला सामने आया है। ग्रामीणों का आरोप है कि गनियारी सरपंच अपने गुंडों के दम पर मछली मरवा रहे हैं। विरोध करने पर ग्रामीणों से मारपीट की जाती है। ग्रामीणों ने कलेक्टर से न्याय की गुहार लगाई है।

झलक पात्रे और गंगाराम ने बताया कि तखतपुर ब्लॉक की ग्राम पंचायत गौबंद में एक तालाब है, जिसका खसरा नंबर 177, रकबा 8.296 एकड़ स्थित है, जिसमें ग्रामवासी मछली पालन का कार्य करते हैं। उनका आरोप है कि गनियारी सरपंच जितेन्द्र राज पिता संतोष राज बलपूर्वक मछली निकलवा रहे हैं। विरोध करने पर वह ग्रामीणों को धमकाते हैं। वह कहते हैं कि मैंने तालाब का ठेका ले लिया है।

आरोप है कि सरपंच राज गांव में गुंडे लेकर पहुंचते हैं और विरोध करने वाले ग्रामीणों से मारपीट करते हैं। तालाब ठेका संबंधित दस्तावेज दिखाने पर आनाकानी करते हैं। इस संदर्भ में तखतपुर सीईओ ली गई तो पता चला कि तालाब का ठेका कार्य नहीं हुआ है और ठेका संबंधित कार्य अभी निर्धारित नहीं है। आरोप है कि गनियारी सरपंच आए दिन लडाई – झगड़ा करते रहतं हैं, जिससे पूर्व में थाना कोटा में शिकातय दर्ज की गई थी, तब उन्हें समझाइश देकर छोड़ दिया गया था, लेकिन कुछ दिनों से बार – बार बहुत सारे लोगों को लाकर झगड़ा करने को उतारू हो रहा है , जिससे ग्रामवासी अत्यधिक परेशान एवं डरे सहमे हैं।

झलक और गंगाराम का कहना है कि ग्रामवासियों की मछुआरा समिति होने के बावजूद भी मछली पालन करने के लिए कोई उपयुक्त साधन नहीं मिल पा रहा है। बाहरी लोगों की गुण्डागर्दी से बहुत ही डर का अनुभव कर रहे हैं। भविष्य में बहुत बड़ी घटना होने की आशंका बनी हुई है। उन्होंने कलेक्टर से गुहार लगाते हुए कहा है कि जितेन्द्र राज द्वारा की जा रही गुण्डागर्दी  को बंद कराया जाए। तालाब में मछली निकलवाने को तत्काल बंद कराकर उन पर कानूनी कार्रवाई की जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.