कलेक्टर एल्मा मातहतों से बोले-  गोठान निर्माण के लिए चिन्हांकित भूमि को अतिक्रमण से मुक्त कराएं… चिट फंड कम्पनी की कुर्की सम्पत्ति और सामग्री की करें नीलामी…  

मुंगेली। कलेक्टर पीएस एल्मा ने सोमवार को जिला कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में साप्ताहिक समय सीमा की बैठक ली। बैठक में उन्होंने समय सीमा के लंबित प्रकरणों के संबंध में अधिकारियों से वनटूवन जानकारी प्राप्त की और निराकरण के संबंध में संबंधितों को सख्त निर्देश दिये।

उन्होने कहा कि राज्य शासन की महत्वाकांक्षी नरवा,गरूवा,घुरूवा, बारी योजना के तहत पशु धन के संरक्षण और संर्वधन के लिए जिले में 305 गोठानों की स्वीकृति दी गई है। इनमें से प्रथम चरण में 72 और द्वितीय चरण में 118 गोठानों का निर्माण कर पशु धन के लिए विभिन्न प्रकार के निर्माण कार्य किये गये है। इसी तरह तृतीय चरण में 115 गोठानों की स्वीकृति दी गई है। उन्होंने कहा कि गोठान निर्माण के लिए चिन्हांकित भूमि में अतिक्रमण की जानकारी समय-समय पर प्राप्त होती रहती है। उन्होंने गोठान निर्माण के लिए चिन्हांकित भूमि को अतिक्रमण से मुक्त करने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये। बैठक में उन्होने चिट फंड कम्पनी की कुर्क की गई सम्पत्ति और सामाग्रियों के बारे में जानकारी प्राप्त की और उन्होंने कुर्क की गई सम्पत्ति और सामग्री को नीलामी करने के निर्देश दिये। बैठक में उन्होंने कहा कि विकासखण्ड लोरमी में 50 सीटर प्री. मैटिक आदिवासी कन्या छात्रावास, ग्राम बरमपुर में 50 सीटर प्री. मैटिक अनुसूचित जाति बालक छात्रावास और विकास खण्ड मुंगेली में 50 सीटर प्री. आदिवासी कन्या आश्रम की स्वीकृति दी गई है। उन्होंने छात्रावास और आश्रम शालाओं के भवन निर्माण हेतु भूमि चयनित करने के लिए संबंधितों को निर्देश दिये है। बैठक में उन्होंने धान उपार्जन केंद्रों से धान उठाव की प्रगति की जानकारी प्राप्त की और धान उठाव कार्य को निर्धारित अवधि में पूरा करने के निर्देश दिये। बैठक में कलेक्टर एल्मा ने कोविड-19 के संबंध में जिले में की जा रही वैक्सीनेशन की प्रगति की भी जानकारी प्राप्त की और वैक्सीनेशन के संबंध में आवश्यक निर्देश दिये। बैठक में उन्होंने जन्म-मृत्यु के ऑनलाईन पंजीयन के बारे में जानकारी प्राप्त की । उन्होंने कहा कि जन्म-मृत्यु के ऑनलाईन पंजीयन के बारे में 18 फरवरी को तीन चरणों में प्रशिक्षण का कार्यक्रम निर्धारित किया गया है। उन्होने प्रशिक्षण के संबंध में आवश्यक निर्देश दिये।  बैठक में कलेक्टर एल्मा ने मुख्यमंत्री की घोषणाओं के संबंध में जानकारी प्राप्त की और उन्होंने मुख्यमंत्री की घोषणाओं को शीघ्र अमल में लाने के निर्देश दिये। बैठक में उन्होने गांवों में आंतरिक विद्युतीकरण के ंसंबंध मे जानकारी प्राप्त की और गांवों में आंतरिक विद्युतीकरण हेतु विद्युत विभाग के अधिकारियों से संपर्क कर गांवो में आंतरिक विद्युतीकरण के लिए प्रस्ताव प्रेषित करने के निर्देश दिये। बैठक में उन्होने कहा कि भारतीय थलसेना भर्ती रैली दुर्ग जिले के  पं. रविशंकर शुक्ला स्टेडियम में 03 से 12 मार्च 2021 तक आयोजित है। इस रैली हेतु मुंगेली जिले के पंजीकृत आवेदकों के लिए शारीरिक दक्षता प्रशिक्षण का आयोजन 16 फरवरी से 01 मार्च तक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी स्टेडियम मुंगेली में किया जा रहा है। उन्होने पंजीकृत आवेदको को प्रशिक्षण देने हेतु प्रशिक्षित टेªनरों के साथ-साथ पुलिस विभाग का भी सहयोग लेने की निर्देश दिये। बैठक में उन्होंने कहा कि जिले में भूतपूर्व एवं वर्तमान पंचायत पदाधिकारियों से निर्माण कार्यो सहित अन्य कार्यो की लंबित राशि की वसूली की जानी है। इस हेतु उन्होंने संबंधित अधिकारियों को अभियान चलाकर वसूली करने के निर्देश दिये। बैठक में उन्होंने सांसद और विधायक मद से स्वीकृत, निर्मित और अपूर्ण निर्माण कार्यो के संबंध में जानकारी प्राप्त की और अपूर्ण निर्माण कार्यों को यथा शीघ्र पूरा करने के लिए संबंधित अधिकारियों को सख्त निर्देश दिये। इसी तरह उन्होंने अन्य विकास और निर्माण कार्यो की प्रगति की जानकारी प्राप्त की और संबंधितों को आवश्यक निर्देश दिये। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रोहित ब्यास, संयुक्त कलेक्टर तीर्थराज अग्रवाल, वनमण्डाधिकारी रामावतार दुबे, सभी अनुभाग के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व और विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी तथा सभी जनपद पंचायत के मुख्य कार्य पालन अधिकारी एवं नगरीय निकायों के सभी मुख्य नगर पालिका अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.