रामधुन में थिरकते नजर आए लोरमी विधायक धर्मजीत सिंह, राम-जानकी मंदिर में भूमिपूजन का उत्सव मनाया, महाआरती कर कारसेवकों का सम्मान भी किया

लोरमी। अयोध्या में श्री राम मंदिर निर्माण के भूमिपूजन का उमंग और उत्साह लोरमी में भी देखने को मिला।  लगभग 65 वर्ष प्राचीन श्रीराम जानकी मंदिर में महाआरती, कारसेवकों का सम्मान, दीप प्रज्वलन और भजन-कीर्तन हुआ। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के विधायक धर्मजीत सिंह के मुख्य आतिथ्य, लोरमी राजपुरोहित सच्चिदानंद तिवारी और  गौरकापा मंदिर के महाराज श्री विवेक गिरी जी की विशेष उपस्थिति में भगवान श्रीराम की महाआरती की गई। कारसेवकों का सम्मान किया गया। रामधुन में विधायक को थिरकते देख श्रद्धालु भी झूम उठे। यहां भगवान श्रीराम के साथ माता जानकी, अनुज लक्ष्मण, भरत, शत्रुहन और भक्त श्री हनुमान जी की प्रतिमा भी स्थापित है, प्रतिदिन अलसुबह और सांध्यकालीन भगवान की आरती में श्रद्धालुगण उपस्थित होते हैं। नगर के एकमात्र प्राचीन मंदिर में बुधवार की सुबह से ही भक्तों का आना जाना लगा रहा। 10-10 के समुह में श्रद्धालुओं को प्रवेश दिया गया ताकि कोरोना काल में 2 गज की दूरी रखी जा सके। पूजन सामग्री और मंदिर परिसर को सेनेटाइज किया गया था। दिन भर पूजा और कीर्तन का वातावरण यहां बना हुआ है। सांध्यकालीन आरती और भजन संध्या में श्रद्धालु शामिल हुए। इस दौरान महंत सीमांत वैष्णव, विधायक प्रतिनिधि अविश यादव, नगर पंचायत अध्यक्ष अंकिता रवि शुक्ला, ब्लाक अध्यक्ष राकेश छाबड़ा, रिक्की सलूजा, रवि शर्मा, रौनक अग्रवाल, विक्की केशरवानी, सीटू सलूजा, मोनू यादव, समीर पाठक, नरेश अग्रवाल व अन्य श्रद्धालु उपस्थित रहे।

 

रामधुन में थिरके विधायक श्री धर्मजीत सिंहः

विशेष अवसर पर विधायक की उपस्थिति का इंतजार सभी श्रद्धालुओं को था, भजन का दौर चल ही रहा था कि विधायक श्री धर्मजीत सिंह मंदिर परिसर पहुंचे। भगवान श्रीराम की आरती की, दीप प्रज्वलित किए, प्रसाद वितरण किया। यहां कारसेवकों का सम्मान किया। फिर भजन-कीर्तन के दौरान विधायक श्री धर्मजीत सिंह रामधुन पर थिरकने लगे। श्रद्धालु उन्हें देख खुद को रोक न पाए और वे भी कदम से कदम मिलाने लगे
। भक्तिमय वातावरण में लोरमी नगरवासियों ने उत्सव मनाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.