विधि विधान से पूजा पाठ के बाद जिला अध्यक्ष विजय केसरवानी व जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा ने किया धान खरीदी केन्द्र शुभारंभ…

बिलासपुर -: जिला पंचायत पदाधिकारियों समेत जिला कांग्रेस अध्यक्ष ने आज आज जिला पंचायत क्षेत्र के आधा दर्जन गांव पहुंचकर धान खरीदी समितियों का शुभारम्भ किया। जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष विजय केशरवानी और जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा ने विधि विधान से पूजा पाठ किया। नारियल फोड़ने के साथ धान खरीदी का शुभारम्भ किया। विजय और अंकित ने कहा धान खरीदी केन्द्रों से किसानों की तरफ से किसी भी प्रकार की शिकायत को बर्दास्त नहीं किया जाएगा। किसी भी प्रकार की बेईमानी पाए जाने पर कठोर कार्रवाई होगी। किसानों के हितों को लेकर किसी भी प्रकार की कोई गलती बर्दास्त नहीं होगी।

 
             जिला कांग्रेस अध्यक्ष विजय केशरवानी और जिला पंंचायत सभापति अंकित गौरहा ने आज जिला पंचायत क्षेत्र के उर्तूम,बैमा,नगोई,पौसरा स्थित धान खरीदी समितियों का शुभारम्भ किया। इस दौरान सभी धान खरीदी केन्द्रों में किसानों की अच्छी खासी भीड़ देखने को मिली। धान खरीदी शुभारम्भ से पहले विजय और अंकित ने विधि विधान से पूजा पाठ किया। साथ ही प्रदेश के किसानों के लिए खुशहाली कामना की।
 
     इस दौरान दोनों नेताओं के अलावा अन्य गणमान्य लोगों के साथ किसान भी मौजूद थे। मौके पर आयोजित कार्यक्रम को विजय केशरवानी और अंकित गौरहा संबोधित किया। अपने संबोधन में विजय केशरवानी ने कहा कि पिछले पन्द्रह सालों में किसानों के चेहरे पर वह रौनक नहीं देखने को मिली। जो इस समय दिखाई दे रही है। प्रदेश का किसान और युवा बेहतर की तलाश में आगे बढ़ रहा है। कोरोना काल के बाद भी प्रदेश मुखिया भूपेश बघेल की अगुवाई में प्रदेश का तेजी से विकास हुआ है। इस बार धान की अच्छी पैदावार हुई है। भूपेश सरकार ने कोचियों की नकेल कस दिया है। यदि किसी भी धान खरीदी केन्द्र में और स्थानीय कोचियों ने बदमाशी की तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।
 
                 जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा ने कहा कि जब से प्रदेश में भूपेश की सरकार आयी है। तब से चारो तरफ विकास की गति में तेजी आयी है। प्रदेश के किसानों के चेहरे खिल गए है। कोचियों की सामत आ गयी है। देश में छत्तीसगढ़ ही इकलौता राज्य है जहां किसानों को 2500 एमएसपी पर धान खरीदा जा रहा है। किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए भूपेश सरकार ने केन्द्रीय कानून को दरकिनार करते हुए नया नियम को लाया है। अब कोई भी किसानों के हितों से खिलवाड़ नहीं कर सकता है। पिछले दो सालों से किसानों को 2500 रूपए में धान खरीदा जा रहा है। और प्रक्रिया आगे भी जारी रहेगी। अंकित ने कहा..हां कुछ लोग हैं..जिन्हें किसानों की खुशी बर्दास्त नहीं हो रही है। लेकिन ऐसे लोगों की परवाह कौन करता है। क्योंकि जब तक प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है..तब तक किसानों की खुशियों को कोई छीन नहीं सकता है। 
 
               अपने संबोधन में दोनों नेताओं ने धान खरीदी केन्द्र की समितियों को चेतावनी भरे लहजे में कहा कि किसानों के साथ बदमाशी को बर्दास्त नहीं किया जाएगा। शिकायत के बाद कार्रवाई के समय कांटा खराब..वारदाना की कमी का बहाना नहीं चलेगा। कम तौल की शिकायत को हरगिज माफ नहीं किया जाएगा।
 
                धान खरीदी केन्द्रों के शुभारम्भ के समय विजय और अंकित गौरहा के अलावा झगरराम सूर्यवंशी,वीरेंद्र गौरहा जनपद सदस्य रवि बघेल,सरपंच बैमा दीपक नायक,सरपंच नगोंई बुधनाथ पैगौर सरपंच पौंसरा डेविड बनर्जी,समीर शास्त्री,रामनिवास शास्त्री,सचिन धीवर, धीवर,बाबूलाल सूर्यवंशी,तेज सिंह गौतम,बिट्टू यादव,दुर्गा करियारे, पुष्पा पटेल,रतिराम केवर्त, रजनी भोई,मुखिराम बिरजे,शिवशंकर केवर्त,साहिल सूर्यवंशी,हितेश धीवर,व किसान,ग्रामवासी विशेष रूस से मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.