बिलासपुर: श्रीराम केयर अस्पताल में भर्ती छात्रा से गैंगरेप… मामला दबाने छात्रा को लगातार किया जा रहा बेहोश… दो वार्ड ब्वाय का नाम आ रहा सामने…

बिलासपुर। शहर के एक नामचीन अस्पताल श्रीराम केयर में भर्ती बीमार युवती के साथ दो वार्ड ब्वॉय ने बलात्कार किया है।  पिछले कई घंटे से पुलिस लगातार श्रीराम केयर में है। बताया जा रहा है कि लड़की ने एक पन्ने में लिखकर बताया है कि उसके साथ 21 और 22 की दरमयानी रात को दो लोगों ने दुष्कर्म किया है। फिलहाल युवती आक्सीजन मास्क पर है। पिता का कहना है कि उसकी बच्ची को होश में आते ही इंजेक्शन देकर बेहोश किया जा रहा है, ताकि मामले को छिपाया जा सके।

बिलासपुर के नामचीन अस्पताल श्री राम केयर में आईसीयू में भर्ती महिला मरीज के साथ बलात्कार का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पीड़िता के पिता ने बताया कि अस्पताल के दो वार्ड व्याय ने बेटी के साथ 21 और 22 मई की दरमियानी रात बारी बारी से रेप किया है। इसके बाद बच्ची सदमें में है। उसने नोट भी लिखा है। मामले की जांच पुलिस कर रही है।

बच्ची बिलासपुर नगर निगम से लगे एक गांव की है। परिवार खेती किसानी का काम करता है। 18 साल की लड़की इंजीनियर प्रथम वर्ष की छात्रा है। 18 मई की सुवह यवती की मां ने बेटी को चाय बनाकर दिया। चाय पीने के बाद वह सोने चली गयी। कुछ ही देर में उसके मुंह से झाग निकलते देखा गया । युवती ने बताया कि वह दवाई खायी है। रिएक्शन हो गया है। आनन फानन में पिता युवती को लेकर सिम्स पहुंचा। लेकिन उसकी हालत बिगड़ती चली गयी। परेशान पिता युवती को लेकर अमेरी रोड स्थित श्रीराम केयर अस्पताल में भर्ती कराया।

युवती के पिता ने बताया कि 19 और 20 मई को बच्ची धीरे धीरे ठीक होते नजर आयी। इस दौरान बच्ची के चेहरे पर आक्सीजन मास्क लगा हुआ था। पिता के अनुसार 22 मई की सुबह बच्ची ने इशारे में बताया कि दो लोगों ने उसके सीने पर हाथ रखा। साथ ही रेप होने का इशारा किया। जब पिता नही समझा तो बच्ची ने मास्क के अन्दर से पेन और पन्ना मांगा।

पिता के अनुसार बच्ची ने पेन से पन्ने पर लिखा कि उसके साथ दो वार्ड व्याय ने बलात्कार किया है। पढ़ते ही बच्ची के पिता की पैर के नीचे से जमीन गायब हो गयी। दिन भर परेशान रहा। इसी बीच बच्ची को कई बार इंजेक्शन देकर बेहोश किया गया। दुबारा जब बच्ची होश में आयी तो उसने लड़खड़ाते जुबान से बताया कि उसके साथ बलात्कार किया गया है। उसे बहुत तकलीफ हो रही है। इतना सुनते ही बच्ची के पिता ने सिविल लाइन थाना को सूचना दिया।

सूचना के बाद सिविल लाइन पुलिस थानेदार परिवेश तिवारी की अगुवाई में श्रीराम केयर अस्पताल पहुंच गयी। पिछले पांच घंटे से लगातार जांच पड़ताल की जा रही है। वहीं पीडित के पिता ने बताया कि प्रबंधन लगातार मामले को दबाने का प्रयास कर रहा है। और दबाव भी बना रहा है। थानेदार परिवेश तिवारी ने बताया कि फिलहाल जांच पड़ताल कर रहे हैं। जल्द ही सब कुछ स्पष्ट हो जाएगा।

पीड़िता के पिता ने बताया कि श्रीराम केयर प्रबंधन मामले को छिपाने अस्पताल बदलने का दबाव बना रहा है। पुलिस का कहना है कि बच्ची का इलाज जांच होने तक इसी अस्पताल में होगा। पुलिस ने निर्देश दिया है कि आईसीयू में रात को बच्ची की मां भी रहेगी। और बाहर एक पुलिस जवान तैनात रहेगा।
बच्ची की पिता के अनुसार बच्ची की जान को खतरा है। कहीं दोनो वार्ड ब्वाय बच्ची की हत्या ना कर दें।

डाक्टर ने नहीं उठाया फोन

श्रीराम केयर के डाक्टर और संचालक अमित सोनी से बातचीत का प्रयास किया लेकिन उन्होने फोन नहीं उठाया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.