बिलासपुर: खनिज विभाग की बड़ी कार्रवाई… गौण खनिज का अवैध परिवहन करते 41 वाहन पकड़े… छह लाख रुपए से अधिक जुर्माना…

बिलासपुर। कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर के निर्देश व खनिज अधिकारी डॉ दिनेश मिश्रा के मार्गदर्शन से कोरोना वाइरस महामारी रोकने के लिए लगया गया लॉक डाउन का फायदा उठाकर व्यापारी रेत, चूना, पत्थर, मिट्टी और मुरूम के अवैध उत्खनन कर रहे थे जिस पर लगाम लगते हु प्रकरण दर्ज कर कार्यवाही किये और वाहनों को जब्त कर भारी जुर्माना भी किया।

खनिज अमला द्वारा विगत 20 दिनों से खनिजों के अवैध उत्खनन एवं परिवहन पर कार्रवाई कर रही थी। पर्यावरण नियमों में मानसून के दौरान रेत उत्खनन प्रतिबंधित करने का निर्देश है। इसके दृष्टिगत खनिज  विभाग ने कार्रवाई कर कुल 41 वाहन रेत, चूनपत्थर, मिट्टी, मूरूम का अवैध परिवहन करते पाए जाने पर प्रकरण दर्ज किया गया था। इन सभी वाहनों को लॉक डाउन के दौरान पकड़ कर छत्तीसगढ़ गौण खनिज नियमों में किए गए संशोधन अनुसार अर्थदंड में की गयी वृद्धि के उपरांत ही इनका निराकरण किया गया।

आज दिनांक तक निराकरण किये गए कुल 33 प्रकरणों में खनिज रेत के अधिकतम वाहन तथा चूनपत्थर, मिट्टी, मूरूम के वाहनों को मिलाते हुए कुल अर्थदंड 4 लाख 44 हजार 276 रुपये जमा कराया  कर प्रकरणों का निराकरण किया गया है।

साथ ही ज़िले में चल रहे अवैध मिट्टी, मूरूम उत्खनन पर 2 प्रकरण दर्ज किए गए थे जिसमें बिल्हा स्थित ग्राम सेवाँर में अनमोल वर्मा पर अर्थदंड 1लाख 2 हजार 280 एवं बिलासपुर स्थित ग्राम लोफंदी में पिंटू केसरवानी पर अर्थदंड 95 हजार 656 आरोपित कर जमा कराकर प्रकरणों का निराकरण कराया गया है , जिसमें कुल राशि 6 लाख 42 हजार 212 रुपये जमा कराया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.