बिलासपुर: मेयर रामशरण ने विद्युत शवदाह गृह के लिए एसईसीएल से मांगे डेढ़ करोड़ रुपए… 3 मुक्तिधामों में होगी अस्थि लॉकर की व्यवस्था…

बिलासपुर। बिलासपुर मेयर रामशरण यादव ने नगर निगम क्षेत्र के तीन मुक्तिधामों में विद्युत शवदाह गृह स्थापना के लिए एसईसीएल से डेढ़ करोड़ मांगे हैं। इसके लिए उन्होंने एसईसीएल के सीएमडी को पत्र लिखा है।

दरअसल, शहर की बढ़ती आबादी के बीच मुक्तिधामों में शवों को जलाने की समस्या पहले से ही है। दूसरी ओर कोरोना काल में मृतकों की संख्या भी बढ़ती जा रही है। मुक्तिधामों में अधिक शव पहुंच जाने के कारण परिजनों को दाह संस्कार के लिए इंतजार करना पड़ता है। कभी-कभी तो काफी समय लग जाता है। इन समस्याओं की ओर मेयर रामशरण यादव ने सुध ली है। उन्होंने एसईसीएल के सीएमडी के पत्र लिखते हुए कहा है कि शहर के तीन मुक्तिधाम सरकंडा, तोरवा और भारतीय नगर में निगम ने विद्युत शवदाह गृह की योजना बनाई है। यहां विद्युत शवदाह गृह बन जाने से दाह संस्कार क्रिया में समस्या नहीं आएगी। उन्होंने सीएसआर मद से डेढ़ करोड़ रुपए रिलीज करने की मांग की है। मेयर रामशरण यादव ने बताया कि अभी कोरोना संक्रमण से जान गंवाने वाले लोगों का सुरक्षित दाह संस्कार किया जा रहा है।

सुरक्षा के लिहाज से अस्थियां तक परिजनों को नहीं सौंपा जा रहा है। इसे ध्यान में रखते हुए तीनों मुक्तिधामों में अस्थि लॉकर की व्यवस्था की जाएगी, जिसमें कोरोना प्रभावित मृतकों की अस्थियां रखी जाएंगी, जिसे बाद में उनके परिजनों को सौंप दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.