बिलासपुर: मामूली विवाद पर पड़ोसियों ने घर घुसकर दंपति पर किया हमला… सिविल लाइन पुलिस पर कमजोर धाराएं लगाने का लगा आरोप…

बिलासपुर। कार पार्किंग के मामूली विवाद पर पड़ोसी ने घर घुसकर पतिपत्नी पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया। कार में तोड़फोड़ भी की। पीड़ित ने सिविल लाइन पुलिस पर करने गंभीर आरोप लगाया है।

इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार तालापारा निवासी सैय्यद राशीद अली पिता आसिफ अली बीते 1 मार्च की दोपहर घर के बाहर अपनी कार खड़ी कर अंदर गए थे, जिसके बाद राशीद अली के पड़ोसी सज्जू अपने दोनों पुत्र सिपतैन रज़ा के साथ घर के बाहर खड़ी कार में तोड़फोड़ करने लगे। राशीद के विरोध करने पर गुस्से में बौखलाए पड़ोसियों ने गंदीगंदी गालियां देते हुए पाइप, डण्डे और लातघूसों से मारपीट शुरू कर दी। जिस पर प्रार्थी जान बचाने अपने घर में घुसा, लेकिन आरोपियों ने उसे मारतेमारते उसके घर में घुस गए और वहां भी मारने लगे, जिसे देख प्रार्थी की पत्नी अपने पति को बचाने को दौड़ी तो आरोपियों ने पत्नी से भी बदसलूकी की। हमले में राशीद अली को सिर पर गंभीर चोटें आई हैं, जिसके बाद खुद पर हुए प्राणघतक हमले की जानकारी देने पति-पत्नी सिविल लाइन थाने पहुंचे, जहां से उन्हें प्रथम उपचार के लिए जिला असपताल में भर्ती किया गया है, जहां राशीद का अभी भी इलाज जारी है। सिविल लाइन पुलिस ने हमला करने वाले पड़ोसी सज्जू, सिपतैन और रज़ा पर धारा 452, 294, 506, 323, 427 और 34 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया है।

प्रार्थी ने पुलिस पर लगाया गंभीर आरोप

मामले में जब राशीद अली से बातचीत की तो उन्होंने आरोप लगाते हुए बताया कि आरोपियों का व्यवहार हमारे अलावा अन्य पड़ोसियों के साथ भी अच्छे नहीं है और वे कुछ कांग्रेसी नेताओं के दम पर अपना रसूख दिखाते हैं, जब हम हमले की जानकारी देने सिविल लाइन थाने पहुंचे तो वहां जो बयान दिया गया था, वह लिखकर पुलिस ने अपने हिसाब से उनका बयान दर्ज किया है, क्योंकि मामले में आरोपियों पर गंभीर धाराएं लगनी थीं, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और मुचलका जमानत वाली धाराएं ही लगाई गईं, जिससे आरोपियों के हौसले बुलंद हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.