छत्तीसगढ़: चीतल का शिकार करने वाले 4 अपराधी पकड़े गए… चीतल का एक शव बरामद, वन विभाग की कार्रवाई…

बिलासपुर। अचानकमार टाइगर रिजर्व से लगे हुए ग्राम शिवतराई तहसील कोटा जिला बिलासपुर के कुछ संदिग्धों द्वारा अचानकमार टाईगर रिजर्व के वन क्षेत्रों में अवैध विद्युत कनेक्शन कर वन्यप्राणियों का शिकार किया जायेगा। सूचना को गंभीरतापूर्वक लेते हुए शिकारियों को पकड़ने हेतु तीन टीम गठित की गई। 27 मार्च 2021 को रात्रि 8 बजे से शिवतराई ग्राम के आस-पास के क्षेत्रों में गश्त किया गया एवं शिकारियों द्वारा छोड़े गये साक्ष्य के आधार पर पूरे क्षेत्र को कार्डन किया गया। रात्रि लगभग 2.30 बजे हार्नेट बाईक में दो व्यक्ति विवेक नेल्शन पिता राजेन्द्र नेल्शन उम्र 29 वर्ष एवं नेक्सन जार्ज पिता राबिन्शन जार्ज उम्र 35 वर्ष को घेराबंदी कर लगभग 10 कि.ग्रा. चीतल के मांस के साथ पकड़ा गया। उक्त अपराधियों से पूछताछ कर शेश अन्य अपराधी संतोश पोर्ते (भूतपर्वू सरपंच शिवतराई), सुरेश उरांव, मुन्ना यादव के घर पर 28 मार्च 2021 को प्रातः 6.30 बजे सर्च वारंट जारी कर डाग स्क्वायड के माध्यम से घर एवं बाड़ी की तलाश ली गई। अपराधी संतोश पोर्ते के घर से लगभग 25 कि.ग्रा. चीतल के मांस तथा काटने में उपयोग किये गये धारदार हथियार प्राप्त हुआ एवं मुन्ना यादव के घर में तीन-धनुश, जी.आई. वायर एवं क्लच वायर इत्यादि जप्त की गई। वहीं अपराधी भुवनेश्वर पोर्ते पिता रूप सिंह उम्र 45 वर्ष के द्वारा अवैध रूप से लगभग 5-7 कि.मी. 11 के.व्ही. वोल्टेज वाले खंभे से जी.आई.तार के माध्यम से जंगल में फैलाकर विद्युत प्रवाहित कराया गया था, जिसे पूछताछ के दौरान अपराधी द्वारा स्वयं घटना स्थल पर बरामद कराया गया, जिस पर एक नग नर चीतल का शव बरामद किया गया। पूछताछ के दौरान यह तथ्य संज्ञान में आया कि अपराधी हसरत खान बिलासपुर के द्वारा संतोश उरांव, मेक्शन जार्ज एवं विवेक नेल्शन के सहयोग से 0.22 बोर गन से एक  चीतल का शिकार किया गया। उक्त अपराध से संबंधित अपराधी संतोश पोर्ते (भूतपूर्व सरपंच शिवतराई), सुरेश उरांव एवं हसरत खान फरार है, जिनकी तलाश की जा रही है। अवैध शिकार से संबंध उक्त अपराधियों के विरूद्ध वन्यप्राणी संरक्षण अधिनियम 1972 की धारा 9 के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर  न्यायालय के समक्ष प्रकरण प्रस्तुत किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.