छत्तीसगढ़: एक साल बाद अब 2 अगस्त से खुलेंगे स्कूल के पट… कैबिनेट में लिया गया निर्णय… जानिए कैसी होगी पढ़ाई की व्यवस्था…

रायपुर। कोविड (COVID-19) के कारण 1 वर्ष से अधिक समय से बंद पड़े स्कूल-कॉलेज अब 2 अगस्त से छत्तीसगढ़ में खुल सकेंगे। इस संबंध में निर्णय मंगलवार को छत्तीसगढ़ सरकार की कैबिनेट बैठक में लिया गया। हालांकि स्कूल-कॉलेज खोलने से पहले प्रबंधन से अभिभावकों और अभिभावकों की अनुमति लेनी होगी। अभिभावकों की अनुमति के बाद ही स्कूल-कॉलेज खुल सकेंगे। शुरुआती चरण में 50 फीसदी क्षमता वाले छात्रों के साथ 10वीं और 12वीं की कक्षाएं शुरू की जाएंगी। यहां 50 – 50 प्रतिशत छात्रों को वैकल्पिक दिन के स्कूलों में बुलाया जाएगा। वहीं, कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के लिए भी यही नियम लागू होगा।

 

राज्य में सभी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई), चिकित्सा, इंजीनियरिंग, पॉलिटेक्निक चरणबद्ध तरीके से खोले जाएंगे। यहां कॉलेजों में छात्रों की उपस्थिति अनिवार्य नहीं होगी। लेकिन राज्य में शिक्षण संस्थान खोलने के निर्णय के साथ ही कैबिनेट के निर्णय में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि इस दौरान कोविड नियमों का कड़ाई से पालन करना होगा. जिन ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड का एक भी मामला नहीं है, केवल उन्हीं क्षेत्रों में अभिभावकों और ग्राम पंचायतों की सहमति से 2 अगस्त से स्कूल खोलने की अनुमति होगी। वही शहरी क्षेत्रों में अभिभावकों और स्थानीय पार्षद की अनुमति होगी। अनिवार्य हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published.