खतरे में ‘छत्तीसगढ़ का खजुराहो’… बारिश के पानी का रिसाव भोरमदेव मंदिर के गर्भगृह तक पहुंचा…

रायपुर। ‘छत्तीसगढ़ का खजुराहो’ कहे जाने वाले कवर्धा स्थित भोरमदेव मंदिर की दीवारों से हो रहा बारिश के पानी का रिसाव गर्भगृह तक पहुंच गया है। पुजारियों को बर्तन में भरकर पानी बाहर निकालना पड़ रहा है। एक ओर की नींव धंस गई है। इसकी जानकारी जिला प्रशासन और पुरातत्व विभाग को है। मंदिर की सुरक्षा को लेकर कोई कदम नहीं उठाया गया है।

कलेक्टर बोले- जिला प्रशासन का मंदिर में कोई हस्तक्षेप नहीं

कलेक्टर रमेश शर्मा ने कहा कि जिला प्रशासन का मंदिर में कोई हस्तक्षेप नहीं है। बारिश का पानी रिसने की रिपोर्ट भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण को भेजेंगे। छत्तीसगढ़ पुरातत्व विभाग के उप संचालक जेआर भगत ने कहा कि वे जल्द ही मंदिर के लिए टीम भेजेंगे जो जांच के बाद उसे ठीक करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.