बिलासपुर पुलिस का साहसभरा कदम… आलोचकों (पत्रकारों) को किया सम्मानित… एसपी ने कहा- यह सम्मान पुलिस के बारे में बेहतर लिखने के लिए नहीं है… हमें आईना दिखाते रहिए…

बिलासपुर। दिन शनिवार… समय दोपहर 1:30 बजे… तालियों की गड़गड़ाहट से गूंजता जल संसाधन विभाग का प्रार्थना भवन… समाज को आईना दिखाने वालों के चेहरों पर बिखरता मुस्कान… और आलोचकों को पुरस्कृत करते उस विभाग के अफसर… जिनके कंधे पर जनता की रखवाली का जिम्मा है… अवसर था, बिलासपुर पुलिस विभाग द्वारा आयोजित पत्रकार सम्मान समारोह का।

बिलासपुर जिले का इतिहास देखें तो बेहतर खबर लिखने वाले पत्रकारों को अब से पहले तक शाबासी तो नहीं मिली थी, लेकिन खिलाफ में लिखने वालों को एफआईआर या नोटिस की धमकी जरूर मिलती रही है। यह पहला मौका है, जब पुलिस विभाग ने बेहतर काम करने वाले पत्रकारों को सम्मानित करने का बीड़ा उठाया। बिलासपुर एसपी प्रशांत अग्रवाल ने कोरोना काल के इस संकट घड़ी में अपनी जान जोखिम में डालकर खबर एकत्रित करने वाले पत्रकारों की सुध ली। उनकी भाषण की शुरुआत भी सराहनीय रही। उन्होंने कहा कि यह सम्मान पुलिस के बारे में अच्छी खबरें लिखने के लिए नहीं है। आप निष्पक्ष और वास्तविक खबरें लिखिए, जिससे समाज में सुधार आ सके, जिसका सीधा लाभ जनता को मिले।

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य कर्मियों, कोरोना वारियर्स आदि लोगों का सम्मान तो पहले ही हो चुका है। पत्रकार भी इस सम्मान के हकदार हैं, क्योंकि कहां, क्या हो रहा है, इसकी जानकारी हमें मीडिया से ही मिलती है। ऐसे कई मौके आए हैं, जब पत्रकार साथियों की ओर से हमें निगेटिव खबरें मिली हैं, जिसे गंभीरता से लेते हुए हमने उसमें सुधार किया। भाषण की औपचारिकता पूरी करने के बाद एसपी प्रशांत अग्रवाल ने www.aajkal.info के संपादक दिलीप यादव, www.tazakhabar36garh.com के संपादक अखलाख खान, www.newslook.in के संपादक लोकेश बाघमारे के अलावा अन्य पत्रकार साथियों का सम्मान किया। इस मौके पर अतिथि के रूप में मंच पर बिलासपुर प्रेस क्लब के अध्यक्ष तिलकराज सलूजा, सचिव वीरेंद्र गहवई, एएसपी शहर ओपी शर्मा, एएसपी ग्रामीण संजय ध्रुव मौजूद थे। मंच का संचालन कोतवाली टीआई कलीम खान ने किया।

एसपी ने किया साइबर मितान का लोकार्पण

इस मौके पर एसपी अग्रवाल ने साइबर मितान अभियान का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि आजकल साइबर क्राइम के मामले बढ़ गए हैं। इसे रोकने के लिए लोगों को जागरूक करना होगा। 1 सितंबर से शुरू हो रहे साइबर मितान अभियान में लोगों को इस तरह की ठगी से बचने के तरीके बताए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.