CM BHUPESH BAGHEL: रायपुर को जल्द मिल सकती है बड़ी सौगात… राज्य में बेहतर होंगी स्वास्थ्य सेवाएं…

रायपुर। छत्तीसगढ़ (CHHATTISGARH) की राजधानी रायपुर (RAIPUR) को जल्द ही बड़ी सौगात मिलने वाली है. क्योंकि निजी क्षेत्र की क्षमताओं का उपयोग करते हुए छत्तीसगढ़ सरकार अंतरराष्ट्रीय स्तर की स्वास्थ्य सुविधाओं का विकास करने जा रही है। इसके लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नवा रायपुर में 25 एकड़ जमीन आरक्षित करने के निर्देश दिए हैं.

नवा रायपुर में बनेगा 1500 बेड का मल्टी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल

दरअसल, छत्तीसगढ़ के नवा रायपुर में 1500 बेड का मल्टी-सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल बनाने की योजना बनाई गई है. (CHIEF MINISTER) सीएम बघेल ने सीएस से 15 दिनों में इस योजना के लिए कार्ययोजना मांगी है। यह अस्पताल सभी अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस होगा। यहां इलाज राज्य की योजनाओं के तहत होगा। इससे मरीज को किसी गंभीर बीमारी के इलाज के लिए राज्य से बाहर जाने की जरूरत नहीं होगी जबकि उसके परिवार वालों को भी चिंता करने की जरूरत नहीं होगी.

सीएम भूपेश बघेल ने राज्य के स्वास्थ्य विभाग के मुख्य सचिव को 15 दिन के भीतर अपनी कार्ययोजना तैयार कर प्रस्तुत करने को कहा है. इससे पहले सीएम बघेल विकासखंड से लेकर जिला स्तर तक के सरकारी अस्पतालों को अच्छी तरह से सुसज्जित करने के लिए सभी कलेक्टरों (COLLECTORS) से कार्ययोजना मांग चुके हैं. बता दें कि नवा रायपुर में अंतरराष्ट्रीय स्तर के निजी अस्पताल की स्थापना से राज्य के साथ-साथ पड़ोसी राज्यों को भी इसका लाभ मिलेगा. आपात स्थिति में एयर एंबुलेंस से इलाज के लिए महानगरों में जाने की स्थिति से भी बचा जा सकता है।

 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मुख्य सचिव से कहा है कि इस अस्पताल में विशेष रूप से मल्टी ऑर्गन ट्रांसप्लांट की सुविधा के साथ-साथ विभिन्न प्रकार की मल्टी सुपर स्पेशियलिटी सुविधाओं का प्रावधान किया जाए. इस अस्पताल की क्षमता एक हजार से डेढ़ हजार बेड की होनी चाहिए और 50 प्रतिशत मरीजों का इलाज डॉ. खूबचंद बघेल योजना या आयुष्मान भारत योजना के तहत करना अनिवार्य है. उन्होंने कहा कि इसमें प्रावधान होना चाहिए कि अस्पताल के निर्माण के लिए एक प्रतिष्ठित चिकित्सा संस्थान, जो अस्पताल की स्थापना और रखरखाव पर न्यूनतम वार्षिक खर्च की मांग करता है, का चयन किया जाना चाहिए।

इस अस्पताल की स्थापना से न केवल छत्तीसगढ़ के लोगों को बल्कि रायपुर के आसपास के अन्य राज्यों के छोटे शहरों को भी इस अस्पताल की सुविधा का लाभ मिलेगा। इस अस्पताल में मल्टी ऑर्गन ट्रांसप्लांट की सुविधा के साथ-साथ विभिन्न प्रकार की मल्टी सुपर स्पेशियलिटी सुविधाओं का प्रावधान किया जाएगा। अस्पताल की स्थापना एवं रखरखाव पर होने वाले वार्षिक व्यय की न्यूनतम राशि सरकार से मांगी जा सकती है। यह अस्पताल रायपुर के लिए एक बड़ा तोहफा माना जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.