असम में छत्तीसगढ़ कांग्रेस के उपाध्यक्ष अटल बोले- कांग्रेस लोगों को जोड़ती है… जबकि बीजेपी जाति, धर्म के नाम लोगों को बांटती है…

छत्तीसगढ़ से गए कांग्रेस नेता असम विधानसभा चुनाव में कार्यकर्ताओं को लगातार ट्रेनिंग दे रहे हैं। प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष अटल श्रीवास्तव, संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने असम की विश्वनाथ विधानसभा की ट्रेनिंग सभा को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस की विचारधारा आजाद भारत में कांग्रेस का योगदान और असम के लिए कांग्रेसी सरकारों द्वारा किए गए कार्यों का उल्लेख कर रहे हैं।

असम में बूथ, सेक्टर व जोन स्तर के कार्यकर्ताओं को विधानसभा स्तर पर चुनाव की तैयारी का जिम्मा छत्तीसगढ़ के नेताओं को मिला है। छत्तीसगढ़ में 15 साल की भाजपा सरकार को जमीनी कार्यकर्ताओं के बल पर किस तरह उखाड़ फेंका गया, उसका भी उदाहरण प्रस्तुत किया जा रहा है। अटल श्रीवास्तव ने मंगलवार को विधानसभा की ट्रेनिंग को संबोधित किया और छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा जनहित में किए जा रहे कार्यों का उल्लेख किया। नेताओं ने कहा कि कांग्रेस का इतिहास देश की आजादी का इतिहास है। संपूर्ण भारत की कल्पना आजाद भारत की कल्पना केवल और केवल कांग्रेस के विचारों से की जा सकती है। भारतीय जनता पार्टी सत्ता में आने के लिए धर्म को धर्म से जाति को जाति से एक प्रदेश को दूसरे प्रदेश से लड़ाने  का कार्य करती है। ऐसी पार्टियों से दूर रहने में ही असम के लोगों की भलाई है। असम चाय के लिए पूरे भारत में प्रसिद्ध है। असम की चाय की खुशबू हर घर में सुबह पाई जाती है, उसी तरह असम में ऐसी सरकार बने, कांग्रेस की सरकार बने, जिसकी खुशबू हर जगह बिखरे।

विश्वनाथ विधानसभा के संकल्प शिविर में एआईसीसी सचिव भूपेंद्र बरुआ, डीसीसी अध्यक्ष दिलीप बरुआ, पूर्व एमएलए नुरुजुलामल सरकार, अंजन बोरा, संजू बरुआ, कमल सेकिया, नीलमणि शर्मा, ब्लॉक अध्यक्ष दीपक दास, राम बाग, अरसुत चोटिया, हरदोई जोयुती सैकिया, युवा अध्यक्ष मनोज गौतम, महिला कांग्रेस की विद्या ओझा, 198 बूथ अध्यक्ष, लगभग 160 से अधिक और लगभग 1000 कार्यकर्ता मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.